क्रिप्टो ऑप्शंस की OTC ट्रेडिंग करने वाला अमेरिका का पहला बड़ा बैंक बना Goldman Sachs


OTC क्रिप्टो ऑप्शंस ट्रेडिंग में रिस्क अधिक है.

खास बातें

  • यह OTC प्रोडक्ट अमेरिका के किसी बड़े बैंक की ऐसी पहली पेशकश है
  • OTC ट्रेड में दो पार्टीज सीधे ट्रेड करती हैं
  • इस तरह के ट्रेड में रिस्क अधिक होता है

अमेरिका में क्रिप्टो ट्रेडिंग में बढ़ोतरी हो रही है. इसी कड़ी में Goldman Sachs ने इनवेस्टमेंट फर्म Galaxy Digital के साथ बिटकॉइन से जुड़े एक इंस्ट्रूमेंट की शुरुआत की है. यह ओवर-द-काउंटर (OTC) प्रोडक्ट अमेरिका के किसी बड़े बैंक की क्रिप्टो सेगमेंट में पहली पेशकश है. यह एक ‘नॉन-डिलीवरेबल ऑप्शन’ है. इसकी सेटलमेंट पहले से तय मैच्योरिटी की तिथि पर कैश में की जाएगी. 

OTC ट्रेड में दो पार्टीज अन्य क्रिप्टोकरेंसीज या सामान्य करेंसी के लिए क्रिप्टो एसेट्स में सीधे ट्रेड करती हैं. इसमें बड़ी मात्रा में क्रिप्टो एसेट्स को बिना किसी इंटरमीडियरी के खरीदा जा बेचा जा सकता है. Galaxy Digital के को-प्रेसिडेंट, Damien Vanderwilt ने कहा, “Goldman Sachs का हमारी फर्म पर लगातार विश्वास हमारी एक्सपर्टाइज और इंस्टीट्यीशंस की ओर से बढ़ती डिमांड को पूरा करने की क्षमता का प्रमाण है.” Goldman Sachs की शुरुआत 1869 में हुई थी. पिछले वर्ष इसने CME Group के साथ बिटकॉइन प्रोडक्ट्स की ट्रेडिंग शुरू की थी. इसके डिजिटल एसेट्स के एशिया पैसिफिक के हेड,  Max Minton का कहना था, “Galaxy Digital के साथ हमारा पहला कैश में सेटलमेंट वाला क्रिप्टोकरेंसी ऑप्शंस ट्रेड के लिए जुड़कर हम खुश हैं. यह हमारी डिजिटल एसेट्स से जुड़ी क्षमताओं में एक महत्वपूर्ण प्रगति है.” 

Galaxy Digital जैसे इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स आमतौर पर अपने फंड को एसेट्स की बड़ी मात्रा में लगाते हैं. ये ट्रांजैक्शंस क्रिप्टो एक्सचेंजों के जरिए होती हैं और इस वजह से व्यक्तिगत इनवेस्टर्स या इंस्टीट्यूशंस एक OTC सिस्टम में इसके लिए डेस्क से संपर्क कर सकते हैं. Coinbase Ventures के Connor Dempsey ने एक ब्लॉग पोस्ट में बताया, “उदाहरण के लिए, अगर आप बड़ी संख्या में बिटकॉइन खरीदने की कोशिश करते हैं तो आपको समस्या हो सकती है. अगर आप यह पूरी खरीद एक एक्सचेंज पर करते हैं तो ऐसा हो सकता है कि इसे एक बार में न खरीदा जा सके और आपकी इसे कई सेलर्स से खरीदना पड़ सकता है.”

Goldman Sachs ने पिछले वर्ष Galaxy Digital के साथ बिटकॉइन फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट्स की ट्रेडिंग शुरू की थी. हालांकि, इसकी नई OTC क्रिप्टो ऑप्शंस ट्रेडिंग में रिस्क अधिक है. इसमें Goldman Sachs के लिए क्रिप्टोकरेंसीज में वोलैटिलिटी एक समस्या हो सकती है. हाल के महीनों में कुछ फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस ने क्रिप्टोकरेंसीज को लेकर अपना रुख बदला है और ये इससे जुड़ी ट्रेडिंग में संभावना तलाश रहे हैं.

यह भी पढ़ें



Source link

Leave A Reply

Your email address will not be published.