पोलैंड में यूक्रेन की नागरिक को बिटकॉइन ट्रांसफर से मिनटों में मिला कैश - CoinGlid.com

पोलैंड में यूक्रेन की नागरिक को बिटकॉइन ट्रांसफर से मिनटों में मिला कैश


एक ट्रांजैक्शन में बिटकॉइन की एक न्यूनतम रकम ही भेजी जा सकती है

खास बातें

  • दक्षिण पश्चिम पोलैंड में एक बिटकॉइन ATM से यह रकम कैश में विड्रॉ की गई
  • इसके लिए मामूली ट्रांजैक्शन फीस चुकाई गई
  • फंड ट्रांसफर के इस तरीके से बिटकॉइन की लोकप्रियता बढ़ी है

अमेरिका के मियामी से यूक्रेन की एक नागरिक को हाल ही में पोलैंड में Bitcoin के Lightning नेटवर्क के जरिए रकम भेजी गई थी. उन्हें फोन पर एक क्रिप्टो वॉलेट डाउनलोड और सेट अप करने में एक BTC डिवेलपर ने मदद की. इसके बाद उन्होंने लगभग तीन मिनट में एक बिटकॉइन ATM से कैश विड्रॉ कर लिया. इससे Lightning नेटवर्क की एफिशिएंसी और विदेश में पेमेंट के लिए इसके इस्तेमाल का पता चलता है. 

CNBC की रिपोर्ट के अनुसार, यूक्रेन की नागरिक ने अपने फोन पर बिटकॉइन और Lightning नेटवर्क के लिए एक सेल्फ-कस्टोडियल क्रिप्टो वॉलेट ऐप डाउनलोड और QR कोड के तौर पर एक इनवॉयस जेनरेट की थी. इसके बाद क्रिप्टो वॉलेट में स्कैन मोड के इस्तेमाल से QR कोड को कैप्चर किया गया और 50,000 Satoshi से कुछ अधिक रकम ट्रांसफर की गई. यूक्रेन की इस नागरिक ने दक्षिण पश्चिम पोलैंड में एक बिटकॉइन ATM से यह रकम कैश में विड्रॉ किया. इसके लिए उन्हें मामूली ट्रांजैक्शन फीस चुकानी पड़ी. बिटकॉइन का Lightning नेटवर्क लेयर-2 सिस्टम है जिसे तुरंत पेमेंट को ट्रांसफर या रिसीव करने के लिए बनाया गया है. इसमें ट्रांजैक्शन मेन नेटवर्क से अलग होती है और इस वजह से कम फीस लगती है. इससे बिटकॉइन का इस्तेमाल बढ़ाने में भी मदद मिल रही है. 

हालांकि, एक ट्रांजैक्शन में बिटकॉइन की एक न्यूनतम रकम ही भेजी जा सकती है, जो लगभग 0.00000546 BTC है. Lightning नेटवर्क ट्रांजैक्शन की लिमिट को सबसे कम उपलब्ध यूनिट 0.00000001 BTC या एक Satoshi की सुविधा देता है. बिटकॉइन के Lightning नेटवर्क से यूजर्स को गोपनीयता को लेकर भी चिंता नहीं करनी होती. 

इसमें ब्लॉकचेन को देखने पर यह पता चलता है कि किसी ट्रांजैक्शन ने एक चैनल ओपन किया है लेकिन यह नहीं बताया जा सकता कि उसके अंदर क्या हो रहा है. अगर ट्रांजैक्शन से जुड़े लोग अपने चैनल को प्राइवेट रखते हैं तो केवल उन्हें ही ट्रांजैक्शन की जानकारी होती है. सामान्य ट्रांजैक्शंस पर अधिक फीस होने से ब्लॉकचेन पर कम रकम भेजने से नुकसान होता है. हालांकि, एक चैनल में बिटकॉइन का एक हिस्सा बिना फीस के भेजा जा सकता है. बिटकॉइन के जरिए फंड ट्रांसफर की यह सुविधा बहुत कम देशों में उपलब्ध है. क्रिप्टोकरेंसी को लेकर कई देशों में कानून बनाने पर काम हो रहा है और उसके बाद ऐसे फंड ट्रांसफर में तेजी आ सकती है.  

यह भी पढ़ें



Source link

Leave A Reply

Your email address will not be published.