स्‍टूडेंट्स को Crypto के बारे में जानकारी देने के लिए Tezos लगाएगी बूटकैंप


Tezos का एक एनर्जी एफिशिएंट ब्लॉकचेन प्लेटफॉर्म होने का दावा है

खास बातें

  • इसके लिए लर्निंग प्लेटफॉर्म Code8 के साथ टाई-अप किया गया है
  • इस bootcamp की शुरुआत 20 अप्रैल को होगी और यह 24 अप्रैल को समाप्त होगा
  • कुछ राज्यों में ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी से जुड़े कोर्सेज भी शुरू हो रहे हैं

स्टूडेंट्स को क्रिप्टो के बारे में जानकारी देने के लिए Tezos देश में एक bootcamp आयोजित कर रही है. इसके लिए लर्निंग प्लेटफॉर्म Code8 के साथ टाई-अप किया गया है. इसमें 300 से अधिक स्टूडेंट्स हिस्सा लेंगे. bootcamp में क्रिप्टोकरेंसी से जुड़ी इंडस्ट्रीज, ब्लॉकचेन और Web3 के बारे  में जानकारी दी जाएगी. स्टूडेंट्स को bootcamp में क्विज और ओपन थीम वाले ब्लॉकचेन प्रोजेक्ट्स दिए जाएंगे. विजेताओं के लिए नकद पुरस्कार होंगे. प्रतिभाशाली प्रोजेक्ट क्रिएटर्स को इकोसिस्टम ग्रोथ ग्रांट (EGG) के जरिए 30,000 डॉलर तक की ग्रांट भी मिल सकती है. 

स्टूडेंट्स को किसी डोमेन से कोई आइडिया चुनना होगा और Tezos का प्लेटफॉर्म इस्तेमाल कर उससे जुड़े सॉल्यूशन बनाने होंगे. एक डीसेंट्रलाइज्ड ओपन-सोर्स ब्लॉकचेन के तौर पर Tezos ट्रांजैक्शंस की सुविधा देने के साथ ही स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट्स के लिए एक प्लेटफॉर्म के तौर पर भी काम कर सकती है. Tezos की ऑपरेशंस हेड Poorvi Sachar ने एक प्रेस विज्ञप्ति में बताया, “कई प्रकार की एक्टविटीज में शामिल होने से स्टूडेंट्स का इस एरिया में इंटरेस्ट बढ़ेगा और उन्हें इससे जुड़ी जानकारी मिलेगी. Tezos का उद्देश्य क्रिप्टो में दिलचस्पी रखने वाले स्टूडेंट्स और युवाओं के लिए आगे बढ़ने का रास्ता बनाना है.” 

वर्चुअल तरीके से आयोजित होने वाले bootcamp में स्टूडेंट्स को Tezos के प्लेटफॉर्म और ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी के बारे में बताया जाएगा. Tezos का एक एनर्जी एफिशिएंट ब्लॉकचेन प्लेटफॉर्म होने का दावा है जिसके पास Tez कही जाने वाली एक नेटिव क्रिप्टोकरेंसी है. इस bootcamp की शुरुआत 20 अप्रैल को होगी और यह 24 अप्रैल को समाप्त होगा. इसमें हिस्सा लेने वालों को एक सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा. 

क्रिप्टो इंडस्ट्री से जुड़े लोगों का मानना है कि आगामी वर्षों में ब्लॉकचेन का इस्तेमाल और इससे जुड़े ट्रेनिंग कार्यक्रमों में बढ़ोतरी होगी. देश में इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कुछ क्षेत्रों में किया जा रहा है. महाराष्ट्र के गढ़चिरोली जिले में हाल ही में ब्लॉकचेन के इस्तेमाल से जाति प्रमाणपत्र जारी करने की शुरुआत की गई थी. इस जिले के निवासियों को Polygon ब्लॉकचेन-बेस्ड प्लेटफॉर्म LegitDoc पर जाति प्रमाणपत्र जारी किए जा रहे हैं. इससे इन प्रमाणपत्रों को तुरंत वेरिफाई किया जा सकता है. इसके अलावा कुछ राज्यों में ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी से जुड़े कोर्सेज भी शुरू किए जा रहे हैं. 

यह भी पढ़ें



Source link

Leave A Reply

Your email address will not be published.