Bitcoin में पेमेंट्स लेने में Shopify के मर्चेंट्स की मदद करेगी Strike


यह सुविधा ऑफलाइन मर्चेंट्स को भी उपलब्ध कराई जाएगी

खास बातें

  • अमेरिका के मियामी में Bitcoin कॉन्फ्रेंस के दौरान इस डील की घोषणा की गई
  • मर्चेंट्स Lightning Network के जरिए बिटकॉइन में पेमेंट ले सकेंगे
  • इससे पेमेंट्स की कॉस्ट में कमी आएगी

क्रिप्टोकरेंसी पेमेंट ऐप Strike ने ई-कॉमर्स कंपनी Shopify और ऑल्टरनेटिव पेमेंट प्रोवाइडर Blackhawk Network के साथ साझेदारी की है. यह साझेदारी Lightning Network के जरिए मर्चेंट्स को बिटकॉइन में पेमेंट्स लेने में मदद के लिए की गई है. इसकी घोषणा Strike के CEO Jack Mallers ने एक Bitcoin कॉन्फ्रेंस के दौरान की, जो अमेरिका के मियानी में आयोजित की गई थी. Lightning Network लेयर-2 पेमेंट और कम्युनिकेशन प्रोटोकॉल है जिसे बिटकॉइन ब्लॉकचेन पर बनाया गया है. इससे ट्रांजैक्शंस को ऑफ-चेन प्रोसेस किया जा सकता है. पेमेंट प्रोसेस को आसान बनाने के लिए Strike ने प्वाइंट-ऑफ-सेल (PoS) सप्लायर NCR को अपने साथ जोड़ा है. 

Strike ने एक प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि नए इंटीग्रेशन से Shopify के मर्चेंट्स दुनिया भर में कस्टमर्स से Lightning Network के जरिए अमेरिकी डॉलर के तौर पर बिटकॉइन में पेमेंट्स प्राप्त कर सकेंगे. Mallers ने कहा, “Shopify के साथ पार्टनरशिप से मर्चेंट्स बिटकॉइन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर एक सस्ते और तेज तरीके से डॉलर प्राप्त कर सकेंगे. Lightning Network एक ग्लोबल पेमेंट्स नेटवर्क है जो कॉस्ट को कम करता है और स्पीड को बढ़ाता है.” 

इस पार्टनरशिप से दुनिया भर में कस्टमर्स की एक बिटकॉइन Lightning Network एनेबल्ड वॉलेट के साथ  Strike की पेमेंट सर्विस तक पहुंच होगी. इनमें 7 करोड़ से अधिक Cash ऐप यूजर्स शामिल हैं. Blackhawk Network के साथ लगभग चार लाख स्टोर्स जुड़े हैं. 

Mallers ने बताया कि यह सुविधा ऑफलाइन मर्चेंट्स को भी उपलब्ध कराई जाएगी. इनमें वॉलमार्ट और मैकडॉनल्ड जैसी बड़ी कंपनियां शामिल हैं. इसमें अमेरिका में कारोबार करने वाले मर्चेंट्स की एक बड़ी संख्या है. हाल ही में दुबई के एक स्कूल ने ट्यूशन फीस का भुगतान Bitcoin और Ether में लेने की शुरुआत की थी. यह मिडल ईस्ट में ऐसा करने वाला पहला स्कूल होगा. Citizens School ने यह फैसला दुबई में हाल ही में वर्चुअल एसेट्स को रेगुलेट करने वाले कानून के लागू होने के बाद किया है. इसके लिए क्रिप्टोकरेंसी पेमेंट्स को प्रोसेस करने वाले एक डिजिटल करेंसी प्लेटफॉर्म के साथ टाई-अप किया गया है. UAE के प्रधानमंत्री Sheikh Mohammed bin Rashid Al Maktoum ने पिछले महीने वर्चुअल एसेट्स के लिए एक बिल पर हस्ताक्षर कर कानून बनाया था. इसके साथ ही क्रिप्टो सेगमेंट पर नियंत्रण के लिए वर्चुअल एसेट रेगुलेटरी अथॉरिटी ( VARA) भी बनाई गई थी.

यह भी पढ़ें



Source link

Leave A Reply

Your email address will not be published.