Guardianlink लॉन्च करेगी पहली प्ले-टु-अर्न NFT गेम


इसमें यूजर्स खुद के NFT बनाने और स्टेडियम को डिजाइन करने जैसी एक्टिविटीज कर सकेंगे

खास बातें

  • इसके जरिए क्रिकेट की एक नई तस्वीर पेश करने का वादा किया गया है
  • इस फर्म की शुरुआत 2016 में हुई थी
  • इसने कुछ सेलेब्रिटीज के सफल NFT प्रोजेक्ट्स के लिए काम किया है

क्रिप्टोकरेंसीज के साथ ही कुछ अन्य सेगमेंट के लिए भी संभावनाएं बढ़ रही हैं. इनमें नॉन-फंजिबल टोकन (NFT) भी शामिल है और इसमें बहुत सी फर्में इनोवेटिव प्रोडक्ट्स के साथ कारोबार शुरू कर रही हैं. इस टेक्नोलॉजी का सबसे अधिक फायदा गेमिंग इंडस्ट्री को मिला है, जो यूजर्स को एक बेहतर एक्सपीरिएंस देने के लिए इसका इस्तेमाल कर रही है. NFT टेक्नोलॉजी नेटवर्क Guardianlink ने भी NFT गेमिंग में उतरने की घोषणा की है. 

चेन्नई की यह फर्म पहली प्ले-टु-अर्न क्रिकेट गेम लॉन्च करेगी. इसकी वेबसाइट पर बताया गया है, “Web 3 में क्रिप्टो का सबसे बड़ा मेटावर्स बनाने की तैयारी है.” इसमें एक यूजर खुद के NFT बनाने और स्टेडियम को डिजाइन करने जैसी एक्टिविटीज कर सकेगा. Guardianlink की जल्द ही गेम लॉन्च करने की तैयारी है और इसके जरिए क्रिकेट की एक नई तस्वीर पेश करने का वादा किया गया है. 

NFT एक डिजिटल एसेट होता है जो वास्तविक दुनिया की चीजों या उनके हिस्सों को रिप्रेजेंट करता है. इनमें आर्ट, म्यूजिक, इन-गेम आइटम्स और वीडियो शामिल हो सकते हैं. इनकी ऑनलाइन ट्रेडिंग की जा सकती है लेकिन इन्हें डुप्लिकेट नहीं किया जा सकता. क्रिकेट अधिक पसंद किए जाने वाले खेलों में शामिल होने के कारण Guardianlink का गेमिंग इंडस्ट्री में कदम रखना हैरान नहीं करता. इस फर्म की शुरुआत 2016 में हुई थी और इसने अपना NFT मार्केटप्लेस फ्रेमवर्क दो वर्ष पहले लॉन्च किया था. यह दुनिया भर में 40 से अधिक NFT मार्केटप्लेस को सपोर्ट देती है. यह आर्टिस्ट्स, गेमर्स और सेलेब्रिटीज के लिए कस्टमाइज किए जा सकने वाले लॉन्च पैड की पेशकश करती है. इसने कुछ सेलेब्रिटीज के सफल NFT प्रोजेक्ट्स के लिए काम किया है.

Guardianlink ने हाल ही में कलारी कैपिटल की अगुवाई वाले फंडिंग राउंड में 1.2 करोड़ डॉलर का इनवेस्टमेंट हासिल किया था. इस फंड का इस्तेमाल बिजनेस बढ़ाने के लिए किया जाएगा. इसके पास सिंगापुर और जापान में पहले से ऑफिस हैं. कुछ ग्लोबल कंपनियां भी NFT सेगमेंट में उतर रही हैं. इनमें अमेरिकन एक्सप्रेस भी शामिल है. इसने मेटावर्स और NFT सेगमेंट्स में उतरने के लिए सात ट्रेडमार्क का आवेदन दिया है. आवेदन में अमेरिकन एक्सप्रेस का लोगो शामिल है जिससे संकेत मिल रहा है कि इसे भी वर्चुअल तरीके से प्रस्तुत किया जा सकता है. यह अमेरिकन एक्सप्रेस का Web 3 में संभावनाओं को तलाशने का कदम है. 

यह भी पढ़ें



Source link

Leave A Reply

Your email address will not be published.